पाश्र्व प्रभु के जन्म-दीक्षा कल्याणक पोष सुदी दशमी पर

बेंगलोर में २३ लाख महाभिषेक १००८ अट्ठम तप की रथयात्रा
pras-prabhu

बेंगलोर: श्री पाश्र्वप्रभु जन्म-दीक्षा कल्याणक महोत्सव समिति के तत्वाधान में मालव मार्तण्ड पू.आ.श्री मुक्तिसागरसूरीजी म.सा. आदि ठाणा की निश्रा में एक विराट, अनूठा, अभूतपूर्व अनुष्ठान, वाराणसी नगरी का राजदरबार, लाल वस्त्रो में सज्ज १००८ जोड़े १००८ प्रतिमाजी पर प्रत्येक के १००८-१००८ अभिषेक २३०० प्रभु भक्तों द्वारा भव्य आयोजन किया गया हैं।योजना बद्ध तरीके से आयोजन को सफल बनाने के लिए अलग-अलग समितियां बनाकर कार्य भार सौंपा गया हैं, महामहिम राज्यपाल, अनेक राजनेता, नामीगिरामी उद्योगपति इस दृश्य के गवाह बनेंगे। आचार्य श्री मुक्तिसागर सूरीजी ने पूरे बेंगलोर को जोड़ने हेतु कर्नाटक में होने वाले प्रथम बार इस आयोजन हेतु २५ संघों में रथ यात्रा लेकर जहॉ-जहॉ पधारे वहाँ गर्म जोशी से स्वागत हुआ। आचार्य श्री मुक्तिसागरसूरीजी ने प्रवचनों दौरान कहा कि जगत का प्राणी मात्र भय ग्रस्त हैं। पाश्र्वप्रभु की भक्ति सभी प्रकार के भयों का नाश करती हैं। जीवन में सभी दु:ख, दर्द व पीड़ा की जड़ पुण्य की कमी हैं और परमात्मा भक्ति से ही पुण्य की वृद्धि होती है। आचार्य श्री की निश्रा में अक्कीपेट में बाजते-गाजते परमात्मा की जयकार के साथ छोटी बालिकाओं के कर कमलों एवं लाभार्थी अभय सुरेश देवकुमारजी गादिया द्वारा जाजम बिछाई गई, जिसमें श्रद्धालुओं ने धन को नहीं धर्म को महत्व दिया। आचार्य श्री ने कहा धन संसार में भ्रमण कराता है, धर्म संसार से पार लगाता हैं। हर संघों में ऊँ नमो भगवते, श्री पाश्र्वनाथाय के सामुहिक जाप गतिमान रहे। आचार्य श्री ने आयोजन में जुड़ने हेतु आहवान करते हुए कहा कि मनुष्य जीवन रूपी बाग को महकाने के लिए प्रभु भक्ति रूपी फूल खिलाने जरूरी हैं, इस नश्वर जीवन की जमा पूंजी ही देव गुरू की भक्ति है, समय-समय पर समिति के पदाधिकारीगण कार्यकर्ता का पूर्ण सहयोग रहा।

– देवकुमार के. जैन

‘आरोग्य दानं' योजना से हजारों मरीजों को मिलेगी निशुल्क दवा, अनुपयोग दवाइयों का संग्रह कर जरूरतमंद को देगा संगठन - विनायक लुनिया
aarogaya-dhan

इंदौर/उज्जैन/कोलकाता/मुंबई/नई दिल्ली: वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी स्व. श्री अशोक जी लुनिया द्वारा स्थापित आल मीडिया जर्नलिस्ट सोशल वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले देश भर के २० राज्यों के १०० से अधिक शहरों में जरूरतमंद मरीजों के लिए ‘आरोग्य दानं’ नामक योजना का शुभारम्भ १ जनवरी २०१९ से किया गया है। संगठन के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष पत्रकार विनायक अशोक लुनिया ने बताया की आज देश भर में करोड़ों की तादात में मरीज हैं जिनमें से एक बड़ा तबका आर्थिक रूप से कमजोर है जो आवश्यक दवाओं के अभाव में बीमारी से जूझता है, जिसके सन्दर्भ में हमारे देश की सरकार द्वारा भी विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही है किन्तु आज भी हमारे देश में गरीबी के कारण मरीज इलाज और दवाओं के अभाव में दम तोड़ रहे हैं। आल मीडिया जर्नलिस्ट सोशल वेलफेयर एसोसिएशन एवं जैन मीडिया सोशल वेलफेयर सोसाइटी के संयुक्त तत्वाधान में वरिष्ठ पत्रकार सचिन कासलीवाल के नेतृत्व में ‘आरोग्य दानं’ योजना का शुभारम्भ कर संचालन करने जा रहे हैं, उक्त योजना को जन-जन तक पहुँचाने के लिए देश भर के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़ी अनेकों समाजसेवी संस्थान भी अपना अहम् भूमिका निभाएगी।

कैसे होगा संचालन : संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मनीष कुमट ने बताया कि दवा संग्रहण एवं वितरण ३ स्तर पर किया जायेगा, वहीं दवाइओं के वितरण के लिए भी त्रिस्तरीय निर्धारित किया गया है।
दवा संग्रह
१- घरों से कार्यकर्ताओं के सहयोग से अनावश्यक दवाओं का संग्रह करना।
२- दवा बाजार के व्यापारियों सें दवायें दान लेना।
३- दवाइयों के प्रतिनिधियों से सैंपल की दवाये निशुल्क प्राप्त करना।
दवा का वितरण
१- शासकीय अस्पतालों में जरुरतमंद मरीजों को टीम के डॉक्टरों के माध्यम से दवा को जाँच कर उपलब्ध करवाना।
२- शहर में विभिन्न निशुल्क औषधालय केंद्र का शासकीय नियमानुसार संचालन के माध्यम से।
३- लम्बे समय तक चलने वाले दवाओं को सूचीबद्ध कर मरीजों को घर पर निशुल्क रूप से दवा उपलब्ध करवाना।
ऐसे होगा संग्रहण
जैन मीडिया सोशल वेलफेयर सोसाइटी के राष्ट्रीय महासचिव अतुल जैन ने बताया कि प्रत्येक शहर में ३ स्तर पर दवा का संग्रहण होगा।
१- प्रत्येक २० से अधिक दवा संग्रहण सेंटर खोले जायेंगे, जिन सेंटरों में स्थानीय नागरिक दवा दान कर रसीद प्राप्त करेंगे, प्राप्त दवाओं को स्थानीय डॉक्टर की निगरानी वाली गठित टीम द्वारा दवा की एक्सपायरी को जांचा जायेगा व् अलग- अलग श्रेणी में संग्रहीत किया जायेगा।
२- प्रत्येक शहर में १० सदस्यों की एक टीम दवा बाजार स्थित दवा के थोक व्यापारियों से दवाओं को संगठन में सहयोग स्वरुप प्राप्त करेगा।
३- १० सदस्यों की टीम शहर में मौजूद दवा प्रतिनिधि से संपर्क कर उनसे सैंपल के दवा दान स्वरुप प्राप्त करेंगे।
इनके निगरानी में होगा वितरण
संगठन के राष्ट्रीय संगठन महासचिव अमित आदित्य सान्याल ने बताया की प्रत्येक शहर में स्थानीय डॉक्टर एवं स्वास्थ कर्मियों की टीम के द्वारा होगा दवाओं का वितरण।
जिलाधीश से लेंगे सहयोग
संगठन के संस्थापक सदस्य एवं अंतराष्ट्रीय तबला वादक आदित्य नारायण बैनर्जी ने बताया कि प्रत्येक शहर में प्रारम्भ किया जाने वाले सेंटर के लिए शहर के जिलाधीश कलेक्टर को सुचना देकर उनसे संचालन एवं वितरण के लिए स्वस्थ विभाग का सहयोग लिया जायेगा।
इन राज्यों में होगा योजनाओं का संचालन
मध्य प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, गुजरात, हरियाणा, झारखण्ड, कर्णाटक, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, चण्डीगढ़, दिल्ली, पुदुच्चेरी में योजनाओं का संचालन संगठन के कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारीगण द्वारा किया जायेगा।

– आल मीडिया जर्नलिस्ट सोशल वेलफेयर एसोसिएशन
भ्रमणध्वनि: ८३१९०३११०५

You may also like...