डिजिटल विद्या के द्वारा जैन धर्म की पढ़ाई

digital-dwara-jain

नांदगांव : भारतवर्षीय दिगम्बर जैन महासभा के अंतर्गत युवा महासभा के माध्यम से भारत के जैन इतिहास में पहली बार नांदगांव में बच्चों के लिये ‘डिजिटल पाठशाला’ का उद्घाटन किया गया।
भारतवर्षीय दिगम्बर युवा महासभा के कार्याध्यक्ष पारस लोहाडे (नासिक) और संयुक्त महामंत्री आनंद काला (नांदगांव) की नियुक्ति के बाद यह पहला कदम था, नांदगांव में छोटे बच्चों की पाठशाला को डिजिटल पाठशाला का स्वरुप दिया गया।
भाद्रपद के पहले ही दिन यानी ऋषिपंचमी को श्री. खं.दि.जैन मंदिर में डिजिटल पाठशाला का उदघाटन किया गया।
डिजिटल पाठशाला का उद्घाटन माननीय जयकुमार कासलीवाल, (वकील) एवम् खं.दि.जैन समाज के अध्यक्ष सुशिलकुमार कासलीवाल के कर कमलों द्वारा किया गया, उद्घाटन के दौरान नुतनकुमार कासलीवाल, दिलीप सेठी, रविद्र लोहाडे, फुलचंद लोहाडे, राजकुमार काला, मल्लीकुमार काला, कैलाश काला, पियुष काला, चंचल गंगवाल, राजेश बडजाते, आनंद काला, ललित काला, कैलाश सेठी एवम् सभी जैन समाज के मान्यवर उपस्थित थे।
नांदगांव में आनंद काला और ललित काला ने कहा कि आज का युग कमप्यूटर का युग है, सभी बच्चों को मोबाइल और कम्प्यूटर पर बताई जानकारी जल्दी से याद होती है, डिजिटल पाठशाला द्वारा बच्चों का बताया गया कि जैन समाज क्या है? तीर्थंकर क्या हैं, जम्बूद्वीप क्या है, भगवान कैसे थे? चमत्कार कैसे होते थे? पुज्य-पाप क्या है, चोरी, परिग्रह क्या है, यह सभी डिजिटल पाठशाला के माध्यम से बताया गया।

- एम.सी. जैन, पत्रकार

संयम स्वर्ण जयंती महोत्सव पर शोभायात्रा का आयोजन

sayam-swarn-jayanti

संत शिरोमणि परम् पुज्य आचार्य श्री विद्यासागर जी महामुनिराज संयम स्वर्ण जयंती महोत्सव समिति का आभार, जिन्होंने पुलक मंच परिवार इंदौर को भव्य शोभायात्रा का संयोजक बनाया एवम् सेवा का अवसर देकर अनुग्रहित किया।
उदासीन आश्रम से भव्य विशाल शोभायात्रा परम् पुज्य आर्यिका श्री आदर्शमति जी माताजी ससंघ के पावन सानिध्य में निकली, जो कि समवसरण मन्दिर कंचन बाग होती हुई रविन्द्र नाट्य ग्रह परिसर तक पहुंची, जहां पर विशाल धर्म सभा में परिवर्तित हो गई। रविन्द्र नाट्य ग्रह पूरा खचाखच भरा था, परिसर के बाहर भी सैकड़ों समाजजन उपस्थित थे। इंदौर के गुरु भक्त समाज ने फिर एक नया इतिहास रचा, हजारों समाजजनों ने उपस्थित होकर शोभायात्रा को भव्याति भव्य बनाया।
विभिन्न संघठनों, महिला मंडलों ने शानदार झाकियां निकालकर उत्कृष्ट गुरु भक्ति का परिचय दिया, आयोजक समिति के सचिन जैन (युवा उद्योग रत्न) एवम सुशील डबडेरा सहित सम्पूर्ण समिति को धन्यवाद दिया गया, सभा का शानदार संचालन डॉक्टर संजय जैन ने और श्रीमती अनामिका बाकलीवाल ने किया, इस अवसर पर पुलक चेतना मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदीप बड़जात्या को आचार्य भगवन के चित्र के अनावरण का सौभाग्य प्राप्त हुआ, पुलक मंच परिवार की श्रीमती अनामिका बाकलीवाल, संगीतकार पंकज जैन की संगीतमय लहरियों से सभी भक्त झूम उठे।

जैन कान्फ्रेंस युवा शाखा द्वारा वैयावच्च सेवा पुरस्कार
राष्ट्रीय पुरस्कार

श्री पवनजी पितलिया जैन बेंगलोर (कर्नाटक)

प्रांतीय पुरस्कार :

१) श्री मनिषजी संचेती जैन रायपुर (छत्तीसगढ़)
२) श्री नरेन्द्रजी बाफना जैन इन्दोर (मध्यप्रदेश)
३) श्री श्रीकांतजी चंगेडिया जैन इचलकरंजी (महाराष्ट्र)
४) श्री नीतिनजी शिंगवी जैन अहमदनगर (महाराष्ट्र)
५) श्री जयंतीजी परमार जैन पनवेल (रायगढ़)
६) श्री राकेशजी दलाल जैन बेंगलोर (कर्नाटक)
७) श्री महेन्द्रजी चोपड़ा जैन चेन्नई (तमिलनाडु)
८) श्री अशोकजी जयचन्दा जैन, दिल्ली
९) श्री विवेकजी जैन रोहतक (हरियाणा)
१०) श्री राजेंद्रजी बोल्या जैन सूरत (गुजरात)
११) श्री राजेशजी कटारिया जैन सिकन्द्राबाद (आंध्र प्रदेश)
१२) श्री हरीशजी जैन कलकत्ता (पश्चिम बंगाल)

प्रोत्साहन पुरस्कार

१) श्री सिद्धार्थ कर्णावट जैन वडगांव शेरी – (मुम्बई-पुणे)
२) श्री आनंद सालेचा जैन निम्बाहेड़ा ( राजस्थान)
३) श्री अशोक बाफना जैन , चिंचवड़ (मुम्बई-पुणे)
४) श्री गौतम गूगले जैन पुणे ( मुम्बई-पुणे)

सभी साथियों का हार्दिक अभिनंदन।

-शशिकुमार (पिंटू) कर्णावट जैन
राष्ट्रीय युवा अध्यक्ष, युवा शाखा
जैन काँन्फ्रेंस

You may also like...